Skip to main content

What is blogging full detail and How to start a blog in hindi 2020

 हेलो दोस्तों आज हमलोग बात करेंगे "blogging" के बारे में  आज मैं आपलोगो को बताऊंगा blogging क्या होता है। blogging आप कैसे start कर सकते है blogging कितने प्रकार  है। आज हमलोग इस पोस्ट में 6 point cover करेंगे। 

Blogging-(complete detail step by step)

  1. Blogging   क्या है? (what  is  blogging) 
Blogging   क्या है? (what  is  blogging)


अगर आप किसी फील्ड में expert है और आपके पास किसी  फ़ील्ड का अच्छा knowledge है। तो आप उस चीज़ के बारे में लिख कर लोगो को बता सकते है। उसी को blogging बोला जाता है। जैसे-मन लीजये मैं एक maths टीचर हूँ  और मुझे  मैथ्स की अच्छी नॉलेज है। तो मैं मैथ्स का एक ब्लॉग बना सकता हूँ। 

आपके पास अगर के पास किसी  फील्ड की नॉलेज है तो आप उसके बड़े में लिख कर लोगो को बता सकते है उसी को Blogging कहते है। आप किसी भी टॉपिक पर blog लिख सकते है ,जैसे- मन लीजये आपको को अच्छा खाना बनाना आता है  फ़ूड रेसिपी blog बना सकते है और लोगो को उसके बारे में बता सकते है। 


2 . Blogging के प्रकार (types of blogging )

blogging में सबसे पहले आपको ध्यान रखना चाहिए की आप सिर्फ हमेसा एक ही category चॉइस करेंगे , एक ही टाइप  ब्लॉग चॉइस करेंगे और उसके बाद उस टॉपिक  regularly काम करेंगे तो ही आप successful हो सकते है।



 blogging basically 7 प्रकार की होती है। 

blogging basically 7 प्रकार की होती है।


  1. Personal blogging 
  2. Business blogging 
  3. Professional blogging 
  4. Niche Blogging 
  5. Reverse Blogging 
  6. Affiliate Blogging 
  7. Media blogging 
ये 7 तरह का blog आप स्टार्ट कर सकते है और लोगो के साथ information share कर सकते है। 


1 . Personal Blogging क़्या होता हैं। (what is personal Blogging)

personal blogging में जो भी आपके बड़े में इनफार्मेशन लोगो के साथ share करना चाहते है वो आप share कर सकते है जैसे-आपकी lifestyle कैसी है ,आप दिन में क्या  काम करते है ,आपका डेली रूटीन आप personal blogging में share कर सकते है और आप personal blogging कर सकते है। 


2. Business blogging क्या होता है?(What is Business Blogging )

Business blogging में जो भी आपका business है या आप या आप किसी business से related लोगो के साथ information शेयर करना चाहते है तो आप business blogging भी कर सकते है और लोगो के साथ इनफार्मेशन भी शेयर कर सकते है। 

3. Niche Blogging क्या होता है?(what is niche Blogging)

Niche Blogging में आप food से related , ट्रैवेलिंग से रिलेटेड ,कोई भी एक टॉपिक चुन सकते और उस टॉपिक पर  blog लिख सकते है। 

4. Reverse Blogging क्या है?(what is reverse blogging )

Reverse blogging में आप एक ऐसा blog बना सकते है जिसमे कोई भी गेस्ट पोस्ट कर सकता है या आपके पास  experts टीम है तो उस टीम के अलग-अलग बन्दे से आप पोस्ट करवा सकते है। यानि की Reverse Blogging  बहुत सारे लोग होते है और वो सारे लोग मिलकर एक ही blog पर काम करते है उसे बोला जाता है Reverse blogging. 


5 . Affiliate Blogging क्या होता है (What is Affiliate Blogging)


Affiliate Blogging में आप Affiliate मार्केटिंग प्रोडक्ट्स को reviews कर सकते है अमेज़न प्रोडक्ट्स को reviews कर सकते है और आप यहाँ पर Affiliate लिंक भी लगा सकते है। और आप Affiliate Blogging कर सकते है ,

6. Media Blogging क्या होता है ?( what is Media Blogging)

Media Blogging में आप video blog पोस्ट  कर सकते है ,instagram blog पोस्ट कर सकते है ,images blog पोस्ट कर सकते है इससे related आप Media Blogging कर सकते है। 


दोस्तों मेरा 3part है 

Blogging कैसे सुरु करे (how to start Blogging )


Blogging कैसे सुरु करे (how to start Blogging )


अगर अपने ये select कर लिया है की आपको किस टॉपिक पर blogging करना है तो आप blog start कर सकते है ,blog स्टार्ट करने के लिए आपको 4-5 स्टेप्स फॉलो करने होते  है जिसके बाद आप एक new blog ready कर सकते है 


1. Domain selection 

सबसे पहले आपको domain select करना और एक domain लेना है। domain name लेने के लिए आप Go Daddy का use कर सकते है आपको देखना  domain name किस category का आप Blog चुन रहे है।  उसी के according आप domain चुन सकते है। 

domain लेते समय ये ध्यान रखे की domain का कोई meaning हो और लोगो को आसानी से याद भी हो जाए। 

2 .Buy Hosting 

आप किस hosting पर आप अपना domain name host करना चाहेंगें इसके लिए आप Blue Host का इस्तेमाल कर सकते है इससे ही आप अच्छी होस्टिंग ले साकते है  और वहां पर आप अपना Blog Host कर सकते है। सॉर्टिंग में आप बेसिक plan का इस्तेमाल करे जिसमें आपको सिर्फ 2-3 $  pay करना  परता है monthly . 

3. Blog Designing 

Blog Designing  में आपको ये देखना पड़ेगा की आप कौन सी category या कौन से टाइप का blog लिख रहे है ,अगर आप Education से रिलेटेड  blog लिख रहे है तो आप Education से related ही design रखेंगे,अगर आप टेक्नीकल blog लिख हैं तो उसी design का blog पड़ेगा अगर आप का blog रेसिपी रिलेटेड है तो उसी मुताबिक आपको Design चुनना होगा। 

आपको basically देखना ये है की किस category पर आप ब्लॉग लिख रहे है उसी के according आपको डिज़ाइन रखनी पड़ेगी। 


4 . Write blog 

 अगर अपने ऊपर दिए हुए 3 steps कम्पलीट कर है domain लेली ,hosting ले लिया और design भी सोच लिया है तो उसके बाद आप blog लिखना सुरु कर सकते है। 


5. Promote your blog 

Blog को आप social media पे भी promote करा सकते हैं social media पे पोस्ट  कर sakte है आप Guest post कर सकते है,आप   backlinks बना सकते है , आप बहुत सारे ऐसे तरीके है जिनका इस्तेमाल करके आप अपने ब्लॉग को प्रॉम्टे करा सकते  है और google पर rank करा सकते है ,और बहुत traffic generate कर सकते है ,

4. Blogging Platform 

Blogging Platform में आप 2 ऑप्शन देख सकते है पहला फ्री  दूसरा paid use कर सकते है फ्री में आप  
  • Wix.com
  • Blogger.com
  • Wordpress.com
और भी बहुत ऐसे blogging platform जहॉ पर आप अपना ब्लॉग  लिख सकते है ,आप blogging start कर  सकते है। दूसरा आप इन्ही का paid version भी इस्तेमाल  कर सकते है अगर आपको अच्छे से blogging करनी है सब कुछ अपना करना चाहते है बिलकुल pro तरीके से तो आप पेड version का इस्तेमाल कर सकते है। 

अगर आपको सबसे अच्छे ,platform का इस्तेमाल करना है  तो आप wordpress का use करे , Wordpress install करके अपने पसंद का template लगा सकते है उसे कस्टमाइज कर सकते है और वहां blogging इस्तेमाल कर सकते है। Wordpress एक ऐसा platform  है SEO फ्रेंडली होता है। 

और मोबाइल फ्रेंडली होता है ये एक बहुत ही अच्छा platform है जहा पर आसानी से blogging स्टार्ट कर   सकते है और traffic भी आसानी से generate कर सकते है।  इसमें बहुत से plugins होते है जो आपकी काफ़ी help करेंगे। 

5. Blogging क्यों सुरु करें ? Why Should Start Blogging 


अगर आप blogging स्टार्ट करना चाहते है तो सबसे पहले आपके मन ये सवाल आनी चाहिये की आप blogging क्यों स्टार्ट करनी चाहिये blogging का सबसे बड़ा benefit है की आप घर बैठे पैसे कमा सकते है ,सुरु में अगर आप थोड़ी मेहनत  करते है और blog लिखना सुरु करते है। 

तो कुछ महीने बाद आपकी अच्छी income होने सुरु हो जाएगी और blogging का सबसे बड़ा benefit है। एक्सपीरियंस मिलता है अगर आप किसी फील्ड के expert है  आपको उस field में और अच्छा Knowledge और आप लोगो को इसके बारे में बता रहे है  तो  कही- कही उस field में knowledge बढ़ेगी 

blogging से आप लोगो की मदद कर रहे है बहुत से ऐसे लोग है जानना चाहते है किसी एक फील्ड के बारे में जैसे टेक ,education तो आप blog post करके कही न कही आप लोगो  मदद कर रहे है,तो अगर आप  मदद करना चाहते है तो भी आप blogging सुरु कर सकते है। 

Comments

Popular posts from this blog

लूडो वाली बहुँ की हिंदी कहानियां

लूडो वाली बहुँ  Hindi kahaniya  लूडो वाली बहुँ : विदाई के वक़्त मंजू की मम्मी मंजू से कहती है देख रे मंजू दूसरे शहर के लोग है इन्हे तेरी मोबाइल के एडिक्शन नहीं पता और रिस्ता हो गया वहाँ कोई नाटक मत करना नहीं तो मुझसे बुरा कोई नहीं होगा। मंजू अपने ससुराल पहुंच जाती हैं।  जहाँ उसे उसकी सास कहती है ,अब सास को आराम देकर  तुहि मेरे बेटे और इस घर का ख्याल  रखेगी अभी तो कोई काम है नहीं इसी लिए कल से सारि ज़िमेदारी सम्भाल लेना बेटा ,मंजू अपने कमरे में आराम करती है और अगली सुबह ससुराल में सारा काम संभाल लेती है  लेकिन काम करते हुए गुस्से में बर-बाराती भी रहती है (सारा घर सम्भाल लेना बहु लेकर आई है या नौकरानी एक तो घर न जाने कौन से कोने में है जहाँ इंटरनेट का एक सिग्नल तक नहीं आता और बात तो ऐसे करती है जैसे न जने कौन से ख़जाने की मालकिन हो )  सास: पहले ही दिन क्या हो गया बहु जो घर में कैलिसि फैला रही हो  बहुँ: अभी तक कुछ किया नहीं मम्मी जी बस अपनी किस्मत पर रो रही हूँ। मायके में पूरा समय wifi से लूडो खेलती थी यहाँ तो नोटिफिकेशन देखने लायक़ इंटरनेट नहीं चलता। लूडो क्या  घंटा

3 भाइयो की hindi kahani

एक व्यक्ति के 3 बेटे थे ,तीनो में बहुत अंतर था ,3 नो अलग-अलग स्वभाव के थे बड़ा बेटा  बहोत मुर्ख और बतमीज़ था ,मझला थोड़ा समझदार था ,और सबसे छोटा बेटा  अति बुद्धिमान और संस्कारी था ,वो हमेसा अपने से बरो का आदर सत्कार करता है ,उस व्यक्ति को अपने सबसे बड़े बेटे की बहोत चिंता रहती थी ,किसी काम की वजह से उन्हें दूसरे गांव जाना था ,और वो गांव काफी दूर था ,इसी लिया उन्होंने अपने साथ खाना और कपड़ा ले लिया और यात्रा के लिए निकल परे, यात्रा के कुल 3 दिन होगये थे लेकिन वो अपनी मंजिल तक  नहीं पहुँच पाए थे ,वो लोग रास्ता भटक गए और खो गए उन्हें रास्ता याद नहीं आ रहा था ,उनके खाने का सामान खत्म हो गया था वो 2 दिनों से भूखे थे ,वो सभी एक पेड़ के निचे बैठ गये ,थोड़ी देर बाद उन्होंने एक घोड़े की आवाज़ सुनी  और देखा की वो एक व्यापारी था ये भी पढ़े  और उसके पास  बहोत साड़ा खाने का सामान एक गांव से दूसरे गांव वो बेचने जा रहा है था उस व्यक्ति ने अपने सबसे बड़े बेटे से बोला  की जाओ और उस व्यापारी से कुछ खाने को मांगो बड़ा बेटा  वहा जाता  और व्यापारी से बोलता है , बड़ा बेटा : अरे ओ व्यापारी तू इतना माल ले जा

4 story in hindi language with morals

ईमानदारी का इनाम  1.  एक गाँव में एक पेंटर रहता था ,वो बहोत ईमानदार था और कभी किसी से बेमानी नहीं करता था। वो दिन रात मेहनत करता था ,फिर भी उसे 2 वक़्त की रोटी ही मिल पाती थी ,वो हमेसा सोचता की कभी उसे कोई बड़ा काम मिले और वो अच्छे से पैसे कमा सके , एक दिन उसके पेंट की अदाकारी के बारे में जमींदार साहब को पता चला जमींदार साहब ने उसे बुलाया और कहाँ तुम्हें मेरी नाव पेंट करनी है , पेंटर: जी ठीक है हो जाएगा  ज़मीनदार: अच्छा ये तो बताओ कितना लोगो , पेंटर: साहब ऐसे तो नाव पेंट के 1500 होते है। आपको जो मन हो वो देदे, ज़मीनदार: ठीक है चलो नाव देख लो  पेंटर: चलिए  पेंटर नाव देख लेता है ,और बोलता है जमींदार साहब मैं अभी पेंट लेके आता हूँ , पेंटर पेंट लेके आता है ,और पेंट करना सुरु कर देता है। जब वो पेंट करते-करते नाव के बिच में आता है तो देखता है ,की उसमे एक सुराख़  है ,वो उस को भर देता है और पेंट पूरा होने के बाद जमींदार को बुला कर ले आता है ,जमींदार उसके काम से बहोत खुश होता है , और बोलता है कल अपने 1500 ले लेना ,वो उस सुराख़ के विषय में जमींदार को नहीं बताता है और वो वहाँ से चला